India News

सैलरीड क्‍लास को बड़ी राहत, समझें – TDS में 25 फीसदी कटौती के मायने

25% TDS Rate Cut 2020 – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस संकट के बीच अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया था। इस पैकेज के बारे में बुधवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने विस्‍तार से जानकारी दी थी। इस दौरान उन्‍होंने सैलरीड क्‍लास और टैक्‍सपेयर्स के लिए भी खास ऐलान किए।

TDS में 25 फीसदी कटौती - TDS Rate Cut 2020

वित्त मंत्री ने बताया कि स्रोत पर कर कटौती या TDS (स्रोत पर कर कटौती) की दरों में 25 फीसदी की कमी की जाएगी। यह कमीशन, ब्रोकरेज या अन्य सभी तरह के पेमेंट पर लागू होगा। TDS दरों में कमी आज यानी 13 मई से ही लागू हो गई है और मार्च 2021 तक रहेगी।

टीडीएस कटौती से लोगों को 55 हजार करोड़ रुपये का लाभ होगा। इसी तरह, TCS ( स्रोत पर संग्रह कटौती) पर भी 25 फीसदी कटौती की राहत मिली है। उदाहरण के तौर पर अगर किसी का 100 रुपये का टीडीएस/टीसीएस बनता है तो उसे 75 रुपये ही देने होंगे।

Advertisement

क्‍या होता है टीडीएस – What is TDS

टैक्‍सपेयर्स की सैलरी में से टीडीएस (स्रोत पर कर कटौती) कटौती की जाती है। इसके जरिए सरकार पैसे जुटाती है। TDS विभिन्न तरह के इनकम सोर्स पर काटा जाता है।

लेटेस्ट न्यूज पाने के लिए हमारी टेलीग्राम चैनल से जुड़े

मसलन, सैलरी, किसी निवेश पर मिले ब्याज या कमीशन आदि पर टीडीएस काटा जाता है। कोई भी संस्थान (जो टीडीएस के दायरे में आता है) जो भुगतान कर रहा है, वह एक निश्चित रकम TDS के रूप में काटता है।

क्‍या है टीसीएस – What is TCS

टीसीएस ( स्रोत पर संग्रह कटौती) का शॉर्ट फॉर्म है। भारत में कुछ सामानों पर एक खास वर्ग के खरीदार से टैक्स वसूला जाता है। इसी को TCS टैक्स कहते है। खरीदार से टैक्‍स कलेक्‍ट कर सेलर भारत सरकार को सौंप देता है।

Final Words

आपको 25% TDS Rate Cut के सबंधित जानकारी कैसी लगी। निचे कमेंट करके अपनी राय जरुर दे। साथ ही इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे। ताकि आपके दोस्त और फॅमिली भी इसके बारे में जान सके।


आप हमें Facebook और Twitter फॉलो कर सकते है। लेटेस्ट न्यूज पाने के लिए हमारी Telegram Channel को भी JOIN करो।

Leave a Comment