Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Gujarat | મુખ્યમંત્રી બાળ સેવા યોજના [2021]

Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Form Gujarat PDF | Mukhyamantri Bal Seva Yojana Form Gujarat | મુખ્યમંત્રી બાલ સેવા યોજના 2021 | Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021 | Mukhyamantri Bal Seva Yojna Gujarat | Bal Seva Yojana Gujarat Form PDF | मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

देश और गुजरात राज्य में कोरोना की महामारी फैल चुकी है। कोरोना महामारी के दौरान राज्य में कई बच्चों के माता-पिता की मौत हो चुकी है। कई मामलों में माता-पिता दोनों की मृत्यु हो चुकी है। माता-पिता की मृत्यु के बाद से राज्य में कई बच्चे अनाथ हो गए हैं। राज्य की सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए संवेदनशील है कि ऐसे अनाथ बच्चों को सभी प्रकार की योजनाओं का लाभ मिले। कोविड-19 महामारी में अनाथ बच्चों की सहायता के लिए गुजरात सरकारने Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Gujarat 2021 शुरू की है।

आज हम आपको इस आर्टिकल में Mukhyamantri Bal Seva Yojana में क्या और कितनी सहाय मिलेंगी? इसकी पात्रता क्या है? आवेदन कैसे करना है? इस बारे में पूरी जानकारी साजा करेंगे, तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Gujarat Application Form

Gujarat Mukhyamantri Bal Sewa Yojana 2021

गुजरात सरकार के द्वारा 30 मई 2021 से ये योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत उन सभी बच्चों को सहाय मिलेंगी जिनके माता – पिता की कोरोना महामारी में मृत्यु हुई है। ऐसे बच्चों को भरण-पोषण, शिक्षा, स्वास्थ्य, प्रशिक्षण, शैक्षिक ऋण, स्वरोजगार और विभिन्न विभागों में सहायता प्रदान करने के लिए “मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना” लागू की गई है। Mukhyamantri Bal Seva Yojana के अंतर्गत बच्चों की पालन पोषण के लिए बच्चे को या फिर उसके अभिभावक को 4000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

Also Read: Manav Garima Yojana 2021

Key Point of Mukhyamantri Bal Seva Yojana

योजना का नाम / Name of Yojana – Scheme
Mukhyamantri Bal Seva Yojana Gujarat, મુખ્યમંત્રી બાલ સેવા યોજના 2021, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना
किसने शुरू कियाGujarat Government
लाभार्थीकोरोना महामारी के कारण अनाथ हुए गुजरात के बच्चे।
उद्देश्यCovid-19 वायरस संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
आर्थिक सहायता4000 रुपये प्रति माह
आवेदन का प्रकारOnline / Offline

Eligibility of Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Gujarat

0 से 21 वर्ष की आयु के बच्चों को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ मिलेगा।

लाभार्थी परिवार गुजरात के मूल निवासी होने चाहिए और पिछले 10 वर्षों से गुजरात राज्य में स्थायी रूप से रह रहे हैं, उस बच्चे को “मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना गुजरात” के लाभ मिलने के पात्र होंगे।

कोरोना समय से पहले जिन बच्चों के माता-पिता की मृत्यु हुई है ऐसे बच्चों के पालक माता-पिता की अगर कोरोना में मृत्यु होती है तो ऐसे फिर से अनाथ हुए बच्चों को भी इस योजना के तहत सहाय दिया जायेगा।

जिन बच्चों के एक अभिभावक (माता या पिता) कोरोना के समय से पहले मृत्यु हुई है और दूसरे अभिभावक की अगर कोरोना संक्रमण से मृत्यु होती है तो ऐसे बच्चों को भी ये योजना में शामिल किया जायेगा।

કોવિડ-૧૯ મહામારીના સમયગાળા દરમ્યાન અનાથ બનેલ બાળકોને સહાય કરવા બાબત – વાંચો ઓફિસિઅલ નોટિફિકેશન

Also Read: Vidhva Sahay Yojana Gujarat [Latest Scheme]

Benefits of Bal Sewa Yojana

अनाथ बच्चा 10 साल से बड़ा है तो ऐसे बच्चे के लिए अलग से बैंक अकाउंट खोलना होगा। ऐसे बच्चे के खाते में हर महीने DBT के जरिए राशि ट्रांसफर की जाएगी।

अनाथ बच्चे के 21 वर्ष पूरे होने तक 4000/- प्रतिमाह की सहाय प्रदान होगी। बच्चा जिस मास से अनाथ हुआ होगा उस मास से ही सहायता के लिए पात्र होगा।

विदेश में पढ़ाई को प्राथमिकता दी जाएगी, कोई आय सीमा नहीं रखी जाएगी और मुख्यमंत्री युवा स्वालंबन योजना (MYSY) के तहत विदेश में पढ़ाई के लिए 50 प्रतिशत फीस की सहायता प्रदान की जाएगी।

अनाथ बालिकाओ को कस्तूरबा गाँधी विद्यालय निवासी शाला में प्रवेश अग्रिमता और छात्रावास का खर्च राज्य सरकार देगी और राज्य सरकार की कुंवरबाई मामेरू योजना में भी अग्रिमता दी जाएगी।

अनाथ बच्चों को मुख्यमंत्री अमृतम योजना के साथ-साथ राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत मुफ्त राशन भी दिया जाएगा।

14 साल से ऊपर के बच्चों को वोकेशनल ट्रेनिंग और 18 साल से ऊपर के बच्चों को स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग दी जाएगी।

Corona One Parent Mukhyamantri bal sewa yojana 2021
Source: Sandesh News Paper

Required Document of Mukhyamantri Bal Seva Yojana

– बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र

– बच्चे का आधार कार्ड

– माता-पिता का आधार कार्ड

– राशन कार्ड (माता-पिता का)

– माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र

– बच्चे के बैंक खाते की पासबुक

– माता-पिता का आधार कार्ड जिसके साथ बच्चा रहता है (माता-पिता का)

– अभिभावक का चुनाव कार्ड और राशन कार्ड जिसके साथ बच्चा रहता है

એક વાલી ગુમાવેલ નિરાધાર બાળકો યોજનાની પાત્રતા

કોવીડ-૧૯ મહામારીના સમયગાળા દરમિયાન માતા-પિતા પૈકી કોઈ એક વાલીનું અવસાન થયેલું હોય તેવા બાળકોને સહાય કરવા બાબતે – નોટિફિકેશન વાંચો

મુખ્યમંત્રી બાળ સેવા યોજના નક્કી કરેલ વય મર્યાદામાં સુધારો કરવા બાબત. – નોટિફિકેશન વાંચો

Download Mukhyamantri Bal Seva Yojana Gujarat Form PDF

यदि आप Mukhyamantri Bal Seva Yojana Application Form Download करना चाहते है तो निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर सकते है।

Mukhyamantri bal seva yojana Form Gujarat, Bal Sewa Yojana 2021, મુખ્યમંત્રી બાલ સેવા યોજના
Mukhyamantri Bal Seva Yojana Form

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ उठाने के लिए “जिला बाल संरक्षण” में जरुरी दस्तावेजों के साथ आवेदन पत्र जमा करना होगा।

संबंधित जिले की Sponsorship & Foster Care Approval Committee (SFCAC) को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना फॉर्म प्राप्त होने की तारीख से 7 दिनों के भीतर आवेदन को स्वीकृत / अस्वीकार करने का निर्णय लेना होगा।

Mukhyamantri Bal Seva Yojana Helpline

गुजरात राज्य में, निराश्रित बच्चे जिनके माता-पिता या एक माता-पिता दोनों कोरोना महामारी के कारण मृत्यु हुई हैं, उस बच्चों को “मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना” का लाभ दिया जाएगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए निदेशक, कार्यालय सामाजिक सुरक्षा विभाग, ब्लॉक नंबर 16, डॉ. जीवराज मेहता भवन, गांधीनगर (गुजरात) से संपर्क करें। एवं जिला स्तर पर बाल विवाह निवारण अधिकारी एवं जिला सामाजिक सुरक्षा अधिकारी एवं उनके सम्बद्ध “जिला बाल संरक्षण एकम” से सम्पर्क करें।

Mukhyamantri Bal Seva Yojana Helpline PDF

आपको Mukhyamantri Bal Seva Yojana Gujarat के बारे में यह जानकारी पसंद आयी हो तो अपने फ्रेंड्स और सोशियल मिडिया में जरूर शेर करे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगो को इस योजना की जानकारी मिले।

आभार।

Comments

Popular posts from this blog

SSC GD Constable Recruitment 2021 | Apply for 25271 Posts

Affiliate Marketing Tips for Beginner

Neeraj Chopra Biography in Hindi | नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय